Connect with us

खेल-कूद

राजकोट टेस्ट : भारत की पहली पारी 488 रनों पर समाप्त

Published

on

राजकोट टेस्टराजकोट | भारत ने सौराष्ट्र क्रिकेट संघ स्टेडियम में खेले जा रहे पहले टेस्ट मैच में इंग्लैंड के पहली पारी के स्कोर 537 रनों के जवाब में अपनी पहली पारी में चौथे दिन शनिवार को सभी विकेट गंवाते हुए 488 रन बनाए। इंग्लैंड को पहली पारी के आधार पर मेजबानों पर 49 रनों की बढ़त मिली है।

इंग्लैंड के मजबूत स्कोर का ठोस जवाब देते हुए भारतीय बल्लेबाजों ने शानदार प्रदर्शन किया। भारत के लिए सलामी बल्लेबाज मुरली विजय (126) और चेतेश्वर पुजारा (124) ने शतकीय पारियां खेलीं और दूसरे विकेट के लिए 209 रनों की साझेदारी कर टीम को मजबूती प्रदान की। इन दोनों के अलावा निचले क्रम में रविचंद्रन अश्विन ने बल्ले से एक बार फिर टीम के लिए उपयोगी योगदान देते हुए 70 रनों की अहम पारी खेली।

139 गेंदों में सात चौकों की मदद से अर्धशतकीय पारी खेलने वाले अश्विन के रूप में भारत का आखिरी विकेट गिरा। इसी के साथ चायकाल की घोषणा कर दी गई।

भारत ने तीसरे दिन चार विकेट के नुकसान पर 319 रन बनाए थे। चौथे दिन भारत को कप्तान विराट कोहली (40) से अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद थी लेकिन वह दुर्भाग्यवश हिट विकेट हो गए। वह हिट विकेट होने वाले दूसरे भारतीय कप्तान हैं। उनसे पहले लाला अमरनाथ हिट विकेट हुए थे।

कोहली से पहले उपकप्तान अजिंक्य रहाणे (13) भी पवेलियन लौट गए थे। चौथे दिन के पहले सत्र में भारत ने इन दोनों के अहम विकेट गंवाए। लेकिन अश्विन और रिद्धिमान साहा (35) की जोड़ी ने मेजबानों का संघर्ष जारी रखा। दोनों ने सातवें विकेट के लिए 64 रन जोड़े। इस साझेदारी को मोइन अली ने तोड़ा। साहा जब आउट हुए तब टीम का स्कोर 425 रन था।

रवींद्र जडेजा (12) कुछ खास नहीं कर पाए और आदिल राशिद का शिकार हुए। उमेश यादव (5) ने अश्विन का साथ देने की कोशिश की लेकिन राशिद ने उन्हें बेन स्टोक्स के हाथों कैच करा पवेलियन भेजा। मोहम्मद समी अश्विन के साथ अंत तक लड़ते रहे और आठ रनों पर नाबाद लौटे।

मेहमानों की तरफ से राशिद ने चार विकेट लिए। अली और जाफर अंसारी ने दो-दो विकेट लिए। स्टोक्स और स्टुअर्ट ब्रॉड को एक-एक सफलता मिली।

इंग्लैंड ने जोए रूट (124), मोइन अली (117) और बेन स्टोक्स (128) की शतकों की मदद से पहली पारी में 537 रनों का विशाल स्कोर खड़ा किया है।

खेल-कूद

टेस्ट सीरीज से पहले दक्षिण अफ्रीका ने उठाया बड़ा कदम, इस भारतीय बल्लेबाज को बनाया अंतरिम कोच

Published

on

नई दिल्ली। पूर्व रणजी क्रिकेटर अमोल मजूमदार को दक्षिण अफ्रीका ने भारत के साथ होने वाली तीन मैचों की टेस्ट सीरीज के लिए अंतरिम बल्लेबाजी कोच नियुक्त किया है।

सोमवार को क्रिकेट दक्षिण अफ्रीका (सीएसए) ने इसकी आधिकारिक पुष्टि कर दी। साल 2014 में प्रथम श्रेणी क्रिकेट से संन्यास लेने के बाद मजूमदार अब विभिन्न टीमों को बतौर बैटिंग कोच कोचिंग दे चुके हैं।

रणजी के इतिहास में दूसरे सर्वाधिक स्कोरर मजूमदार के पास भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) और क्रिकेट आस्ट्रेलिया (सीए) से हाई परफॉर्मेस कोचिंग का प्रमाणपत्र हासिल है।

वह इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में राजस्थान रॉयल्स को भी बल्लेबाजी कोचिंग दे रहे हैं। विकेटकीपर बल्लेबाज क्विंटन डी कॉक की कप्तानी वाली दक्षिण अफ्रीकी टीम को 15 सितम्बर को धर्मशाला में, 18 को मोहाली में और 22 सितम्बर को बेंगलुरु में भारतीय टीम के साथ टी-20 मैच खेलने हैं।

टी-20 सीरीज के बाद दोनों टीमें विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप के तहत तीन मैचों की टेस्ट सीरीज भी खेलेगी। टेस्ट सीरीज का पहला मैच दो अक्टूबर से विशाखापत्तनम में, दूसरा 10 अक्टूबर से पुणे में और तीसरा 19 अक्टूबर से रांची में खेला जाएगा।

दक्षिण अफ्रीका ने ओटिस गिब्सन का कार्यकाल नहीं बढ़ाया है और ईनोक क्वे टीम के नए डायरेक्टर के रूप में टीम के साथ भारत दौरे पर आए हैं।

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending