Connect with us

खेल-कूद

रणजी ट्रॉफी : सहवाग, चंद के शतक से दिल्ली अच्छी स्थिति में

Published

on

नई दिल्ली| राष्ट्रीय राजधानी के फिरोजशाह कोटला स्टेडियम में चल रहे रणजी ट्रॉफी के ग्रुप-बी के मुकाबले में दिल्ली ने सलामी बल्लेबाज उन्मुक्त चंद (105) और विरेंद्र सहवाग (105) की शतकीय पारियों की बदौलत गुजरात के खिलाफ अपनी पहली पारी मैच के दूसरे दिन सोमवार को छह विकेट पर 425 रनों पर घोषित कर दी। इसके बाद दिल्ली के लिए शिवम शर्मा ने गुजरात का एक विकेट भी चटका दिया। दिन का खेल खत्म होने तक गुजरात ने अपनी पहली पारी में एक विकेट के नुकसान पर 34 रन बना लिए हैं, हालांकि पहली पारी के आधार पर वह अभी 391 रनों से पीछे हैं।

चंद के साथ दिल्ली को शानदार शुरुआत दिलाने में कप्तान गौतम गंभीर (66) की भी अहम भूमिका रही।पहले दिन 97 रनों पर नाबाद लौटे चंद ने सहवाग के साथ दूसरे विकेट के लिए 39 रनों की साझेदारी निभाई और इस दौरान अपना शतक भी पूरा किया। चंद का रणजी ट्रॉफी के मौजूदा सत्र में यह दूसरा शतक है।सहवाग ने चंद के जाने के बाद मिथुन मन्हास (44) के साथ तीसरे विकेट के लिए 107 रन जोड़े। चंद ने जहां अपनी शतकीय पारी में 227 गेंदों का सामना किया वहीं सहवाग ने 148 गेंद तक क्रीज पर टिके रहे। चंद ने 13 चौके और चार छक्के भी लगाए, हालांकि सहवाग ने कुल 14 चौके जड़े। दिल्ली के लिए सुमित नरवाल (37) ने तेजी से रन जुटाए। नरवाल ने 28 गेंदों का सामना कर तीन चौके और तीन छक्के लगाए। नरवाल ने टूर्नामेंट में अब तक हरफनमौला प्रदर्शन करते हुए दो मैचों में दो अर्धशतक लगाए हैं और आठ विकेट भी चटकाए हैं।

खेल-कूद

पूर्व क्रिकेटर कपिल देव को पड़ा दिल का दौरा, दिल्ली के अस्पताल में करवाई एंजियोप्लास्टी

Published

on

नई दिल्ली। भारत को 1983 का क्रिकेट वर्ल्ड कप दिलवाने वाले दिग्गज क्रिकेटर कपिल देव को दिल का दौरा पड़ा है जिसके बाद उन्होंने दिल्ली के एक अस्पताल में एंजियोप्लास्टी करवाई है।

फिलहाल वह खतरे से बाहर बताए जा रहे हैं और उनकी हालत स्थिर है। कपिल देव की यह खबर सामने आने के बाद सोशल मीडिया पर उनके स्वास्थ्य लाभ को लेकर दुआओं का सिलसिला शुरू हो गया है। यूजर उनके जल्छ ठीक होने की कामना कर रहे हैं।

कपिल देव की कप्तानी में भारत ने 1983 में पहला वर्ल्ड कप जीता था। कपिल देव एक बेहतरीन ऑलराउंडर रहे हैं।

Continue Reading

Trending