Connect with us

मनोरंजन

काश लाइसेंसिंग, मनोरंजन कर सुविधाजनक हो जाए : शंकर महादेवन

Published

on

काश लाइसेंसिंग, मनोरंजन कर सुविधाजनक हो जाए : शंकर महादेवन

काश लाइसेंसिंग, मनोरंजन कर सुविधाजनक हो जाए : शंकर महादेवन

मुंबई| गायक और गीतकार शंकर महादेवन की इच्छा है कि काश देश में लाइसेंसिंग और मनोरंजन कर सुविधाजनक हो जाए। चार बार राष्ट्रीय पुरस्कार जीत चुके महादेवन ने ‘रॉकफोर्ड’, ‘दिल चाहता है’, ‘रॉक ऑन’ और ‘जिंदगी मिलेगी न दोबारा’ के संगीत की रचना की है।

गायक ने  कहा, “यह निरंतर विकसित होने वाला उद्योग है और इसमें काफी विकास हुआ है। चाहे वह संगीत उत्पादन की बात हो या गीत लेखन की। इसे अंतराष्ट्रीय पहचान मिल चुकी है और यह एक अच्छी बात है।”

उन्होंने कहा, “हमारे देश में काफी लाइव कार्यक्रम होते हैं और पहले से काफी ज्यादा संगीत समारोह होते हैं, हालांकि हम चाहते हैं कि काश लाइव संगीत के प्रचार के लिए लाइसेंसिंग और मनोरंजन कर थोड़े आसान हो जाएं।”

मनोरंजन

30 रूपए मांगकर पैदल चलते थे, आज ट्रैफिक से बचने के लिए हेलीकॉप्टर से चलते हैं

योगेश मिश्रा

Published

on

मुंबई। बॉलीवुड एक्टर शाहरुख़ खान किसी पहचान के मोहताज नहीं है। आज वो यूं ही करोड़ों रुपए का मालिक नहीं। इसके पीछे उनकी कड़ी मेहनत है। आज वह जिस मुकाम पर है, वह उस स्टारडम के हकदार भी है। एक समय था जब शाहरुख खान 1989 में सीरियल फौजी से करियर का शुरूआत किए थे। अब वह बॉलीवुड के सबसे अमीर एक्टर कहलाते हैं। उनके पास प्राइवेट हेलीकॉप्टर है।

दरअसल शाहरुख खान ने आने- जाने के लिए हेलीकॉप्टर ख़रीदा है, ताकि वह अपने कीमती समय को बचा सके। अक्सर एक्टर जब रोड से होकर गुजरते हैं तो ट्रैफिक में फंसना लाजमी है। शाहरुख होने वाले शूटिंग में अपने प्राइवेट हेलीकॉप्टर से पहुंचते हैं, और शूटिंग खत्म करने के तुरंत बाद उससे ही घर के लिए रवाना होते।

शाहरुख अपनी आने वाली फिल्म जीरो की शूटिंग में व्यस्त हैं। उन्हें इस फिल्म से बहुत उम्मीदें हैं। फैंस के लिए भी यह पहला मौका होगा, जब वो शाहरुख को एक बोने के रूप में देखेंगे।

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending