Breaking News

ये हैं 9वीं क्लास की पैडगर्ल्स, केले के छिलके से बनाया सैनिटरी पैड

नई दिल्ली। महिलाओं के द्वारा माहवारी में इस्तेमाल किये जाने वाले ‘सैनिटरी पैड’ पर आधारित फिल्म ‘पैडमैन’ इनदिनों काफी चर्चाओं का विषय बनी हुई है। बता दें कि, ये फिल्म पैडमैन अरुणाचलम मुरुगननाथम नाम के एक व्यक्ति पर आधारित है। मुरुगननाथम सस्ते दामों में पैड बनाने वाले एक मात्र व्यक्ति है। लेकिन वहीँ अब दो लडकियां ऐसी भी सामने आई है। जिन्होंने आर्गेनिक तरीके से सैनिटरी पैड बनाए है। जिसकी वजह से अब इन्हें पैडगर्ल्स का नाम दे दिया गया है।

मेहसाणा जिले की रहने वाली ये दोनों लड़कियां राजवी और ध्रुवी पटेल है। इनदोनों ने ही ऐसे पैड बनाये है। जो स्वास्थ और पर्यावरण दोनों के लिए ही हानिकारक नहीं है। राजवी और ध्रुवी ने केले के छिलके से पैड बनाए है। क्यों चौंक गए न आप! लेकिन ये बिलकुल सच है।

राजवी और ध्रुवी नौवीं कक्षा की छात्र है। इन दोनों ने पहले इस बारे में रिसर्च किया। फिर इन्होने केले के छिलके से धागे बनाने वाली एक कंपनी से धागे मंगवाए। उसके बाद उन धागो से एक पेपर बनाकर तैयार किया। उस पेपर में फिर कॉटन रखी जिसके बाद उन्होंने ये सैनिटरी नैपकिन का निर्माण किया. उन्होंने बताया कि उन्होंने ये पैड केले के छिलके से बनाया है। सभी कंपनी सैनिटरी नैपकिन प्लास्टिक से बनाती है। लेकिन प्लास्टिक डिकम्पोस नहीं हो पाता है इसलिए इन्होने केले के छिलके से पैड बनाया है जो पूरी तरह से इको-फ्रेंडली तो है ही साथ ही ये डिकम्पोज़ भी हो जाएगा।

राजवी और ध्रुवी के इस प्रोजेक्ट को सभी ने खूब सराहा और जिसकी बदौलत आज ये दोनों पैडगर्ल्स के नाम से मशहूर हो गई।

 

 

 

 

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com