टीचर ने दी छात्रा को ऐसी खौफनाक सजा, प्राइवेट पार्ट में घुसाई पेंसिल

इलाहाबाद। प्रतापगढ़ में कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालय में पिटाई करने का एक शर्मनाक मामला सामने आया है। स्‍कूल की दो टीचर के खिलाफ एक छात्रा के परिवारीजनों ने थाने में तहरीर देकर आरोप लगाया है कि बेटी की पिटाई के बाद उसके प्राइवेट पार्ट में पेंसिल घुसाई गई।

ऐसे घिनौने मामले के थाने पहुंचने पर  पर हड़कंप मच गया। आलाधिकारियों को तत्काल सूचना देते हुए शिक्षा विभाग के अधिकारियों को भी मामले के बारे में सूचित किया गया है।

घटना प्रतापगढ़ के फतनपुर रामापुर कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालय की है। यहां कक्षा 7 में पढ़ने वाली छात्रा के साथ परिवारीजन फतनपुर थाने पहुंच गए। यहां तहरीर देते हुए बताया कि विद्यालय की दो टीचरों ने पहले उसे जमकर पीटा और फिर उसके कमर के नीचे के प्राइवेट पार्ट में पेंसिल घुसा दी।

इससे वह बिलबिला गई और घायल हो गई। आक्रोशित परिवारीजनों ने स्कूल के बाहर हंगामा करते हुए कार्रवाई की मांग की। कुछ देर पहले बीएसए और उनकी टीम भी जांच पड़ताल के लिए स्‍कूल पहुंच गई।

प्रतापगढ़, कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालय, प्राइवेट पार्ट, कस्तूरबा, छात्रा

गौरतलब है कि पूर्व में भी कई आवासीय विद्यालय में छात्राओं को पीटने और उनके उत्पीड़न की खबरें आती रही हैं, लेकिन यह पहली बार है जब इस तरह से अमानवीय क्रूरता की बात सामने आई है। हालांकि विद्यालय की वार्डेन सुमन सिंह ने बताया कि आरोप पूरी तरह से गलत हैं।

छात्रा ने कई बच्चियों के साथ गलत हरकत की थी। इसकी शिकायत पर उसे सजा दी गई। छात्रा की मां को बुलाकर भी जानकारी दी गई थी। अब इसे गलत तरीके से तूल दिया जा रहा है।

वहीं आरोपित टीचरों का कहना है कि कुछ छात्राएं आपस में गलत हरकत कर रही थीं। जब उनसे कड़ाई से पूछताछ कर फटकारा गया तो आरोप लगाने वाली बच्ची का नाम दूसरी छात्राओं ने बता दिया। इस पर उसे तगड़ी डांट लगाई गई। तब उसने इसे अलग रंग दे दिया।

loading...
=>