ट्रेन के सफर में नहीं रखना होगा आईडी प्रूफ, एम-आधार आएगा काम

नई दिल्ली। अब आपको ट्रेन यात्रा पर निकलते समय आईडी प्रूफ साथ रखने की जहमत नहीं उठानी पड़ेगी। वजह यह है कि यात्री अब एम-आधार को आईडी प्रूफ (पहचान प्रमाण पत्र) के रूप में इस्तेमाल कर सकेंगे।

रेल मंत्रालय ने बुधवार को कहा कि उसने किसी भी आरक्षित श्रेणी के यात्रियों के लिए पहचान पत्र के रूप में आधार के डिजिटल प्रारूप ‘एम-आधार’ को मंजूरी देने का फैसला लिया है।

अब तक बिना आईडी प्रूफ के रेल यात्रा के दौरान परेशानी बढ़ जाती थी। कई बार तो पैसेंजर को जुर्माना तक देना पड़ता था लेकिन अब रेल सफर के दौरान आईडी प्रूफ साथ लेकर चलने की जरूरत नहीं पड़ेगी।

मंत्रालय के मुताबिक रेलवे की किसी भी रिजर्व क्लास में यात्रा के दौरान ई-आधार को आईडी प्रूफ के तौर पर इस्तेमाल किया जा सकता है। ई-आधार आधार कार्ड का ही डिजिटल वर्जन है। यूनीक आईडेंटिफिकेशन अथॉरिटी ऑफ इंडिया ने एम-आधार ऐप लॉन्च किया था।

गूगल प्ले स्टोर से आधार ऐप को डाउनलोड करने से पहले सुनिश्चित कर लें कि फोन में वही नंबर होना चाहिए जो आपके आधार नंबर से लिंक है। जब आप आधार ऐप में अपनी प्रोफाइल सेटअप करेंगे तो उस पर ओटीपी आएगा। अगर मोबाइल नंबर एक्टिव नहीं होगा तो आप ऐप का सेटअप नहीं कर पाएंगे।

loading...
=>