VIDEO: लड़की ने 6 घंटे खुद के साथ कुछ भी करने की इजाज़त क्या दी, लोगों ने NAKED कर ब्लेड से काट डाला शरीर

कहते है कि, इंसान की सोच ही उसे दूसरों की निगाहों में उठाती गिराती है। जिस तरह से हम समाज को अपना दर्पण मानते है ठीक उसी तरह हम सोच को इंसान का प्रतिबिम्ब कहते है। अगर अप अपनी सोच से गिर गए तो जीवन में आपको कभी कोई नहीं उठा सकता। आज जो खबर हम आपको सुनाने जा रहे है वो आपको सिर्फ हैरान ही नही कुछ पल के लिए खामोश भी कर देंगी।

टली के नेपल्स शहर में हुई इस परफॉरमेंस को लोग आज भी याद रखते हैं। परफॉरमेंस साल 1974 में हुई थी।   मरीना इसके बारे में आज भी बात करती हुई देखी जाती हैं। 6 घंटे चली इस परफॉरमेंस में मरीना ने कुछ भी नहीं किया था।

वो सारे कपड़े उतारकर बस खड़ी रहीं। पास में एक टेबल था। टेबल पर 72 चीजें रखी हुई थीं। वहां आए लोगों को उन 72 चीजों में अपनी पसंद की चीज से मरीना के साथ कुछ भी करना था।

आइये जानते है पहले तो उनके करीब केवल फोटोग्राफर आए। फिर लोग आने शुरू हो गए। पहले तो केवल उन्हें देखते रहे.कुछ ने उन्हें हिलाया-डुलाया। हाथ-पांव हिलाए।

उन्हें एक जगह से दूसरी जगह ले जाकर खड़ा कर दिया.फिर लोग टेबल की ओर बढे. टेबल पर सुंदर वस्तुओं से लेकर खतरनाक वस्तुएं थीं। पंख और फूल थे। ब्लेड, चाकू और बंदूक भी थे।

लोगों ने मरीना के ऊपर चीजें टांग दीं। उसे रस्सी से बांधा। एक व्यक्ति ने उन्हें ब्लेड से काट दिया। एक और व्यक्ति ने उन्हें लोडेड बंदूक खुद पर तानने के लिए कहा। एक व्यक्ति ने उन्हें नग्न कर उनका शरीर जहां-तहां छुआ लोगों को इसपर भी सुकून नहीं पड़ा। उन्होंने मरीना के शरीर में कांटे भोंक दिए।

जब परफॉरमेंस ख़तम हुई, यानी 6 घंटे बाद, मरीना ने कमरे में चलना शुरू किया। हर एक व्यक्ति के पास गईं।   आंखों में आंखें डालकर खड़ी हो गईं। वे लोग जो उनको कुछ देर पहले हैरेस कर रहे थे। अब उनकी आंखों में भी नहीं देख पा रहे थे।

मरीना ने उन्हें उनके अंदर का राक्षस दिखा दिया था। मरीना ने बाद में कहा, हम वो लोग हैं, जो हिंसा करने के पहले एक पल भी नहीं सोचते. हम क्रूर हैं। और शायद हमें मरीना जैसी कोई स्त्री मिल जाए, तो हम उसका यौन उत्पीड़न कर उसके कच्चा खा जाएं।

फ़िलहाल सोशल मीडिया पर वायरल यह वीडियो लोगो को अंदर तक झंकझोर रहा है। जिसने उन्हें दिखा दिया की वह क्या सोंचते है।

आप भी देखिये यह निर्मम वीडियो-

https://youtu.be/Qlbrsh0jKLY

 

 

loading...
=>