कम दाम में गरीबों की किडनी खरीदकर विदेशों में लाखों में बेच देता था यह अस्पताल, कुबूला गुनाह

देहरादून। कुछ दिन पूर्व देहरादून में एक किडनी गिरोह का पर्दाफाश हुआ था। इसी कड़ी में पता चला है कि किडनी गिरोह के तार देश के कई और शहरों से जुड़े हुए थे।

पुलिस ने जब जांच की तो पाया कि अस्पताल के तार विदेशों से यानी खाड़ी के देशों में किडनी की तस्करी की जाती थी। इतना ही नहीं अस्पताल के एक कमरे से खाड़ी देशों के चार एयर टिकट के अलावा उर्दू में लिखे डॉक्टरी प्रिस्क्रप्शन मिले।

खबरों के अनुसार अस्पताल में काफी गरीब लोगों की किडनी बेहद कम दाम पर निकाल कर विदेशों में लाखों रुपये में बेच डाली जाती थी। पूरा खेल एजेंटों के सहारे चलता था। किडनी गिरोह का यह गंदा खेल मुम्बई से ऑपरेट होता था।

एजेंटों के माध्यम से खाड़ी देशों से मरीजों को यहां लाया जाता था। पुलिस और स्वास्थ्य विभाग की टीम ने जब जांच की तो पता चला कि यहां एक ट्रांसप्लांट के बदले मरीजों से 25 से 50 लाख रुपये लिए जा रहे थे। एक एजेंट जावेद ने पुलिस के सामने अपना गुनाह भी मान लिया है। स्वास्थ्य विभाग के अनुसार एक मरीज यहां ओमान से आया हुआ था।

 

loading...
=>