क्यूँ अपनी हाफ पैंट होटल में छोड़कर चला गया था ये तानाशाह, होंगी नीलामी

अक्सर हम हमेशा खडूस लुक्स देने वाले लोगों को ‘हिटलर’ के नाम से पुकारते है। यहाँ तक की अगर कभी मम्मी पापा हमें अपनी मनमानी न करने दें तो बच्चे अक्सर उन्हे भी हिटलर पेरेंट्स कहकर चिढाने लगते है। दरअसल, हिटलर नाम ऐसे ही नहीं फेमस है।

हिटलर जर्मन का बहुत बड़ा तानाशाह था। हिटलर ने अपने कार्यो और अपने व्यक्तित्व के कारण पूरे विश्व भर में लोकप्रियता बटोरी थी। आज भी उसे उसकी तानाशाही की वजह से याद किया जाता है। बता दे, कि अमेरिका में एक नीलामी हो रही है, जिसमें एडोल्फ हिटलर के एक जोड़े बॉक्सर शॉर्ट्स (हाफपैंट) की भी नीलामी होगी।

उम्मीद है कि इस हाफपैंट के जोड़े 5,000 डॉलर (लगभग 3 लाख रुपये) में बिक सकते है। अमेरिका के लेक्जेंडर हिस्टॉरिकल ऑक्शन्स के अनुसार, इस सफ़ेद रंग की धारी वाले शॉर्ट्स की लंबाई 19 इंच है।

शॉर्ट्स के वेस्ट का नाप 39 इंच है। इस पर नामाक्षर ‘ए.एच.’ भी दर्ज है। उन्हें ये बॉक्सर ऑस्ट्रिया के पार्कहोटल ग्राज के पूर्व मालिक के पोते ने भेजी थी।

बॉक्सर भेजने वाले व्यक्ति ने पत्र में लिखा था कि हिटलर इस होटल में अप्रैल 1938 को ठहरा था। हिटलर की आत्मकथा “मेन केम्फ” की हस्ताक्षरित दुर्लभ प्रति को भी नीलामी के लिए रखा जाएगा।

यह नीलामी 13 सितंबर को होगी। साथ ही हिटलर के नामाक्षर वाली सफेद शर्ट और उसके ग्लोब की भी नीलामी की जाएगी। 13 सितम्बर से इसको ऑनलाइन बेचने की प्रक्रिया शुरू होगी।

 

 

loading...
=>