खुले दरवाजे के साथ दौड़ी दिल्ली मेट्रो, दहशत में आए पैसेंजर

नई दिल्ली। सोमवार देर रात दिल्ली मेट्रो में बड़ी तकनीकी खराबी सामने आई। दिल्ली मेट्रो की सबसे व्यस्त लाइनों में शुमार येलो लाइन पर मेट्रो के दरवाजे खुले रह गए और चावड़ी बाजार से विश्वविद्यालय ट्रेन दौड़ती रही। घटना के मुताबिक मेट्रो ट्रेन गुडग़ांव की तरफ से विश्वविद्यालय की ओर जा रही थी। खचाखच भरी मेट्रो के यात्रियों में दहशत फैल गई।

इस पूरी घटना को एक मुसाफिर ने अपने मोबाइल में कैद कर लिया। यही नहीं उन्होंने अपनी फिक्र जताने के साथ ही इस यात्रा के दौरान दूसरे यात्रियों के डर और अनुभव को भी अपने मोबाइल कैमरे में कैद कर लिया।

चावड़ी बाजार मेट्रो स्टेशन तक तो सब कुछ ठीक था लेकिन वहां से जैसे ही ट्रेन आगे बढ़ी, कोच का एक दरवाजा बंद ही नहीं हुआ। यूं तो मेट्रो के दरवाजों में सेंसर लगे होते हैं और दरवाजा बंद नहीं होने तक मेट्रो आगे नहीं बढ़ती है, लेकिन यहां कुछ ऐसी तकनीकी खराबी आई कि दरवाजा खुला होने के बावजूद मेट्रो ने रफ्तार पकड़ ली और चांदनी चौक की तरफ बढ़ गई। इस सबके बावजूद इमरजेंसी अलार्म नहीं बजा।

जब गेट खुलने की जानकारी मेट्रो मैनेजमेंट को मिली तो विश्वविद्यालय मेट्रो स्टेशन पर मेट्रो को खाली कराया गया। गनीमत रही कि इस दौरान किसी पैसेंजर को कोई चोट नहीं लगी। किसी तरह का कोई नुकसान नहीं हुआ। चलती मेट्रो में चूक का ये कोई पहला मामला नहीं है। इससे पहले 17 जुलाई 2014 को भी ऐसी घटना सामने आई थी जब अर्जुन गढ़ से घिटोरनी तक मेट्रो खुले गेट के साथ दौड़ती रही।

इस पूरे मामले में डीएमआरसी का कहना है कि तकनीकी खराबी की वजह से आंशिक तौर पर मेट्रो के दरवाजे खुले रह गए लेकिन मेट्रो के स्टाफ ने एहतियात के तौर पर दरवाजे को गार्ड कर लिया, ताकि कोई हादसा न हो।

loading...
=>