रामायण सर्किट के लिए केंद्र ने खोला खजाना, केंद्रीय पर्यटन मंत्री आज जाएंगे अयोध्या

 

mahesh sharmaनई दिल्ली। केंद्रीय संस्कृति एवं पर्यटन राज्यमंत्री महेश शर्मा अयोध्या में प्रस्तावित रामायण संग्रहालय के निर्माण स्थल का मुआयना करने के लिए मंगलवार को वहां पहुंचेंगे। हालांकि शर्मा से यह स्पष्ट किया कि राज्य में होने वाले चुनाव से इस निर्माण का कोई लेना देना नहीं है।

शर्मा ने कहा कि यह अयोध्या और पूरे देश में पर्यटन को बढ़ावा देने के सरकार के प्रयास का हिस्सा है। यह दौरा सरकार के विकास के एजेंडे का हिस्सा है। उम्मीद की जा रही है कि शर्मा विवादित मंदिर के स्थल पर भी जाएंगे। उन्होंने कहा कि संग्रहालय रामायण सर्किट का हिस्सा होगा जिसके लिए केंद्र सरकार ने 225 करोड़ रुपये स्वीकृत किए हैं। इनमें 151 करोड़ रुपये विशेष तौर पर केवल अयोध्या के लिए है जो इस सर्किट का केंद्र है।

पर्यटन मंत्री ने कहा कि राम करोड़ों लोगों के दिल में हैं। पर्यटन मंत्री के रूप में मुझे देखना है कि अयोध्या का विकास किस तरह से किया जा सकता है और पर्यटन के नजरिए किस तरह से विकसित किया जा सकता है। अपनी इस यात्रा के दौरान शर्मा संभवत: रामायण सर्किट के सलाहकार बोर्ड के साथ रामायण से जुड़े नेपाल और श्रीलंका के स्थलों को प्रस्तावित संग्रहालय से जोडऩे के मार्गो पर विचार विमर्श करने के लिए बैठक भी करेंगे।

इस बीच भाजपा नेता और राज्यसभा के सदस्य विनय कटियार ने केंद्र सरकार से अयोध्या में रामजन्म भूमि पर राममंदिर निर्माण के लिए कदम उठाने का आग्रह किया है। उन्होंने कहा है कि यह सरकार पर निर्भर है कि वह बातचीत के माध्यम से या अदालत से या लोकसभा के जरिए इसके लिए रास्ता तलाश करे।

Comments

comments

Facebook Auto Publish Powered By : XYZScripts.com