जम्मू: नगरोटा में आर्मी यूनिट पर फिदायीन हमला, दो मेजर समेत सात जवान शहीद

Nagrota attackजम्मू। उड़ी के बाद जम्मू के नगरोटा में मंगलवार को आतंकियों ने 16 कोर मुख्यालय के निकट सैन्य शिविर पर सबसे बड़ा फिदायीन हमला किया। इसमें सेना के दो मेजर और पांच सैनिकों समेत सात जांबाज शहीद हो गए। वहीं रामगढ़ की चमलियाल पोस्ट के पास हुए एक अन्य हमले में बीएसएफ के उपमहानिरीक्षक सहित आठ सुरक्षाकर्मी घायल हो गए। हालांकि सुरक्षा बलों ने भारी हथियारों से लैस छह आतंकवादियों को मार गिराया।

पहली घटना में भारी हथियारों से लैस पुलिस की वर्दी पहने आतंकियों ने नगरोटा में सैन्य शिविर पर हमला कर दिया। जिसके बाद सुरक्षा बलों के साथ शुरू हुई भीषण मुठभेड़ घंटों जारी रही। मुठभेड़ में तीन आतंकवादियों को मार गिराए जाने से पहले दो मेजर सहित सात सैनिक शहीद हो गए। यहां बंधकों जैसी स्थिति थी, लेकिन सेना ने वहां फंसे सभी 12 सैनिकों, दो महिलाओं और दो ब‘चों को सुरक्षित मुक्त करा लिया। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, हमले का पता चला तो कई क्वार्टर्स में रह रहीं अफसरों की पत्नियों ने घरों के दरवाजों को भारी समान से सटाकर बंद कर दिया। इसके चलते आतंकवादी वहां नहीं घुस पाए और एक बड़ी आफत टल गई।

वहां साम्बा के पास रामगढ़ में अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास घंटों चली मुठभेड़ में बीएसएफ ने तीन आतंकवादियों को मार गिराया। मुठभेड़ के बाद इस क्षेत्र में पाकिस्तानी सेनाओं ने जबरदस्त गोलीबारी भी की। इस घटना में बीएसएफ के उपमहानिरीक्षक सहित चार सुरक्षाकर्मी घायल हो गए।

loading...
loading...

AKK 'Web_Wing'

Adminstrator