एक्शन में योगी, लॉ एंड ऑर्डर को लेकर अफसरों को तलब कर सख्त निर्देश

लखनऊ। यूपी के सीएम का पद संभालते ही योगी आदित्यनाथ एक्शन में आ गए हैं। उन्होंने सोमवार को अफसरों को तलब कर लॉ एंड ऑर्डर दुरुस्त करने की सख्त हिदायत दी। उन्होंने अफसरों से साफ कहा कि किसी भी स्तर पर कोताही बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

वहीं उत्तर प्रदेश में दो उपमुख्यमंत्री व 22 कैबिनेट मंत्रियों के बैठने का स्थान तय किया जा रहा है। सोमवार को विधान भवन में दो उपमुख्यमंत्रियों के बैठने का कमरा निर्धारित किया गया है। विधान भवन में मुख्यमंत्री के कक्ष के आसपास ही उनके दो नायाबों के भी कक्ष हैं।

उपमुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा उस कक्ष में बैठेंगे, जिसमें शिवपाल सिंह यादव का कार्यालय था और उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य को आजम खां वाला कक्ष दिया गया है।

पहले शर्मा और बाद में मौर्य ने मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी से मुलाकात की। इनकी मुलाकात वीवीआईपी गेस्ट हाउस में हुई। पत्रकारों से बातचीत में शर्मा ने कहा, “हमारे संकल्पपत्र में लिखी सभी बातें पूरी की जाएंगी। यह सरकार एक दिन नहीं, बल्कि पांच वर्ष तक एक्शन में रहेगी।”

इससे पहले मुख्यमंत्री योगी ने प्रदेश के मुख्य सचिव राहुल भटनागर के साथ ही डीजीपी जावीद अहमद, प्रमुख सचिव गृह देवाशीष पांडा, प्रमुख सचिव सूचना नवनीत सहगल को तलब किया और उन्हें प्रदेश की कानून-व्यवस्था को लेकर सख्त निर्देश दिए।

मुख्यमंत्री ने अधिकारियों से कहा कि असामाजिक तत्वों पर कड़ी कार्रवाई शुरू की जाए। उन्होंने महिला संबंधी अपराधों को रोकने के लिए भी सख्त निर्देश दिए।

योगी ने लखनऊ के कमिश्नर भुवनेश कुमार, आईजी सतीश भारद्वाज, डीआईजी प्रवीण कुमार व वरिष्ठ आईएएस अधिकारी प्रवीर कुमार से भी भेंट की।

Comments

comments

Facebook Auto Publish Powered By : XYZScripts.com