‘आरएसएस प्रशिक्षित मोदी, पर्रिकर ने सर्जिकल स्ट्राइक के लिए सेना को प्रेरित किया’

रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर पणजी, भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की गोवा इकाई ने पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में सर्जिकल स्ट्राइक के लिए राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) के शिक्षण को श्रेय देने वाली रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर की टिप्पणी का बचाव किया है। पार्टी के प्रवक्ता ने कहा कि गत 29 सितम्बर को हुए सर्जिकल स्ट्राइक को एक ‘निर्देशक’ की जरूरत थी।

गोवा प्रदेश भाजपा प्रवक्ता किरण कंडोलकर ने आईएएनएस से कहा, “भारतीय सेना ने सर्जिकल स्ट्राइक किया है, हम इसकी सराहना करते हैं और बधाई देते हैं। लेकिन, स्ट्राइक कराने के लिए एक निर्देशक भी होता है, एक ऐसा जो उनके साथ खड़ा रहता है।”

कंडोलकर ने कहा, “सर्जिकल स्ट्राइक के लिए सेना को किसी से प्रेरणा मिली है और हम महसूस करते है हैं कि यह रक्षा मंत्री और प्रधानमंत्री से मिली।”

उन्होंने कहा, “अगर उन्होंने (पर्रिकर) और मोदी जी ने राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ से प्रशिक्षण लिया, अगर उन लोगों ने संगठन से कुछ सीखा है और उसका इस्तेमाल सर्जिकल स्ट्राइक के लिए किया है, तो हम नहीं समझते हैं कि इसमें कुछ गलत है।” अहमदाबाद में निरमा विश्वविद्यालय के एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए पर्रिकर ने सोमवार को कहा था, “प्रधानमंत्री महात्मा गांधी के गृह राज्य से आते हैं और रक्षा मंत्री गोवा के हैं जो कभी लड़ाकू प्रजाति (मार्शल रेस) नहीं रहा है। सर्जिकल स्ट्राइक एक अलग किस्म की युक्ति थी। हो सकता है कि इसके मूल में आरएसएस का शिक्षण रहा हो।”

पर्रिकर को उनकी टिप्पणी के लिए ‘बेवजह निशाना बनाने के लिए’ कांग्रेस की निंदा करते हुए कंडोलकर ने कहा, “आरएसएस का मानना है कि कश्मीर हमारा है और कांग्रेस कुछ और मानती है।”

loading...